DOWNLOAD OUR APP
IndiaOnline playstore
08:04 PM | Mon, 30 May 2016

Download Our Mobile App

Download Font

तीन लेखकों ने नहीं लिया पद्म सम्मान, हिन्दू समर्थक कहलाने का डर

124 Days ago
| by RTI News

19c5db42-8286-4534-ac07-6275e6397367.JPG

नई दिल्लीः तमिल के मशहूर लेखक बी. जयमोहन, महाराष्ट्र में शेतकारी संगठन के संस्‍थापक शरद जोशी के परिजन और वरिष्ठ पत्रकार वीरेन्‍द्र कपूर ने पद्म पुरस्‍कार लेने से इंकार कर दिया है। भारत सरकार द्वारा सोमवार को पद्म पुरस्‍कारों की सूची जारी होने से पहले ही लेखकों ने पुरस्‍कार से इंकार कर दिया। इस बारे में लेखक औऱ लेखकों के परिजनों की अपनी-अपनी दलीले है।

तमिल लेखक बी. जयमोहन का तर्क
तमिल लेखक जयमोहन ने कहा कि, यदि वो पद्म सम्मान ले लेते तो लोग उन्हे हिंदू समर्थक मान सकते थे, इसीलिए उन्होने सम्मान लेने मना किया। हालांकि उनके लिए यह गर्व का मौका है। लेकिन  जयमोहन नहीं चाहते कि लोग उन्हे या उनके लेखन को गलत तरह से लें।  जयमोहन ने अपने फेसबुक पोस्‍ट में लिखा-अवार्ड लेने से दूसरे लोगों को उन्‍हें हिंदू समर्थक कहने का मौका मिल जाता। वे पहले से ही अपने राजनीतिक स्‍टैंड के चलते आलोचनाएं झेल रहे हैं। वे न तो ‘सत्‍ता में बैठे लोगों के करीबियों’ और न ‘देश विरोधियों’ के कैंप का हिस्‍सा बनना चाहते हैं।

लेखक शरद जोशी के परिजनो का तर्क
शेतकारी संगठन के ट्रस्‍टी और लेखक शरद जोशी के साथी अनंत देशपांडे ने कहा कि, ‘गृह मंत्रालय ने शरद जोशी की बेटी को रविवार को बुलाया था और उन्हे मरणोपरांत पद्म श्री देने के बारे में चर्चा की थी। उन्‍होंने नम्रता से मना कर दिया और कहा उनका काम सम्‍मान से भी बड़ा है।’ शरद जोशी के एक और साथी सुरेशचन्‍द्र म्‍हात्रे ने बताया कि, 1992 में भी जोशी को यह सम्‍मान देने का प्रयास हुआ था। लेकिन जोशी ने मना कर दिया था।

पत्रकार वीरेन्‍द्र कपूर की दलील
पत्रकार वीरेन्‍द्र कपूर ने अंग्रेजी अखवार इंडियन एक्‍सप्रेस को बताया कि, ‘मैं भारत सरकार के खिलाफ नहीं हूं। पिछले 40 साल में मैंने किसी भी सरकार से कोई सम्‍मान नहीं लिया है। मैं सरकार से कुछ भी लेने में विश्‍वास नहीं करता।’

आपको बता दें कि पत्रकार वीरेन्‍द्र कपूर को इमरजेंसी के समय जेल में डाल दिया गया था। पिछले साल भी श्री-श्री रविशंकर, योगगुरु बाबा रामदेव, सलमान खान के पिता सलीम खान और दाऊदी बोहरा समुदाय के प्रमुख सैयदना मोहम्‍मद बुरहानुद्दीन ने पद्म सम्‍मान लेने से मना कर दिया था।

Viewed 12 times
  • SHARE THIS
  • TWEET THIS
  • SHARE THIS
  • E-mail

Our Media Partners

app banner

Download India's No.1 FREE All-in-1 App

Daily News, Weather Updates, Local City Search, All India Travel Guide, Games, Jokes & lots more - All-in-1