केजरीवाल ने बुलाई आपात बैठक CM , दिल्ली में बाढ़ का खतरा

News

दिल्ली में बाढ़ का खतरा देखते हुए अलर्ट जारी कर दिया गया है। वहीं बाढ़ की स्थिति को देखते हुए दिल्ली सरकार ने आपात बैठक बुलाई है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इस बैठक की अध्यक्षता करेंगे। इस बैठक के लिए सभी संबंधित अधिकारियों को मौजूद रहने को कहा गया है।

रविवार को हरियाणा के हथिनी कुंड बैराज से 21 लाख क्यूसेक से अधिक पानी छोड़े जाने के कारण सोमवार को यमुना का जलस्तर तेजी से बढ़ने का अनुमान है।

वहीं बाढ़ की स्थिति को देखते हुए दिल्ली सरकार ने आपात बैठक बुलाई है। इस बैठक की अध्यक्षता मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल करेंगे। इस बैठक में सभी संबंधित अधिकारियों को मौजूद रहने को कहा गया है। पूर्वानुमान के मुताबिक, नदी का जलस्तर 207 मीटर को पार कर जाएगा। यमुना में खतरे का निशान 205.33 मीटर है।

हरियाणा के हथिनी कुंड बैराज से रविवार सुबह 6 बजे से ही लाखों क्यूसेक पानी छोड़ने का जो सिलसिला शुरू हुआ वह दोपहर बाद तक जारी रहा। सुबह 6 बजे पहले 1.25 लाख क्यूसेक लीटर पानी छोड़ा गया है।

उसके बाद हर घंटे पानी छोड़े जाने की मात्रा बढ़ती रही। एक बार में सबसे अधिक पानी शाम 6 बजे 8.27 लाख क्यूसेक से अधिक छोड़ा गया।

उससे पहले पांच बजे भी 8.10 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया। खबर लिखे जाने तक यमुना का जलस्तर 203.37 पर स्थिर बना हुआ था। बहाव तेज हो रहा : सिंचाई एवं बाढ़ नियंत्रण विभाग के अधिकारियों के मुताबिक, यमुना में पानी जब छोड़ा जाता है तो अगले 36 से 48 घंटे में दिल्ली पहुंचता है। चूंकि, हरियाणा से हर घंटे लाखों क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है तो इससे पानी का बहाव भी तेज हो रहा है।

इससे यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि अगले 24 घंटे के अंदर ही पानी दिल्ली पहुंचने लगेगा। जगह खाली करने को कहा गया : इसे देखते हुए रविवार से यमुना खादर के लोगों को अलर्ट कर सोमवार सुबह तक जगह खाली करने को कहा गया है। अलग-अलग टीमों को अलग-अलग इलाके में अलर्ट करने के लिए बोल दिया गया है।

यमुना खादर में रह रहे लोगों के बीच जाकर सिविल डिफेंस के लोगों ने यमुना के जलस्तर बढ़ने की जानकारी देते हुए जगह खाली करने को कहा है। साथ ही यमुना के आस-पास जाने से मना किया है। उस्मानपुर, खजूरी चौक, पुराने लोहे के पुल गीता कॉलोनी के अलग-अलग ठोकर, मयूर विहार, बुराड़ी जैसे इलाकों में जाकर खादर में रह रहे लोगों को यमुना नदी में जलतर बढ़ने की संभावना को देखते हुए जगह खाली करने को कहा गया है।

हरियाणा से छोड़ा गया पानी सुबह से शाम तक का समय छोड़ा गया पानी (क्यूसेक में) 7.00 बजे

1.55 लाख क्यूसेक 8.00 बजे 2.57 लाख क्यूसेक 9.00 बजे 3.25 लाख क्यूसेक 10.00 बजे
4.30 लाख क्यूसेक 11.00 बजे 5.10 लाख क्यूसके 12.00 बजे 5.25 लाख क्यूसेक 5.00 बजे
8.14 लाख क्यूसेक 6.00 बजे 8.27 लाख क्यूसेक समय यमुना का जलस्तर सुबह 6 बजे
203.34 सुबह 9 बजे 203.37 दोपहर 12 बजे 203.37 शाम 6 बजे
203.37 शाम 7 बजे

203.37 नंबर गेम 205.33 मीटर है यमुना में जलस्तर के खतरे का निशान 204.50 मीटर जलस्तर होने पर अलर्ट हो जाती है टीम 205 मीटर से ऊपर जलस्तर जाने का पूर्वानुमान है सोमवार सुबह 10 बजे तक 207.49 मीटर तक यमुना में अधिकतम जलस्तर 1978 में गया है अभी तक

The post बुलाई आपात बैठक CM केजरीवाल ने, दिल्ली में बाढ़ का खतरा appeared first on Everyday News.  (EVERYDAY NEWS)

Download Our Free App