गोवा में 50वें भारतीय अंतर्राष्‍ट्रीय फिल्‍म महोत्‍सव की रंगारंग शुरूआत

news

50वां भारतीय अंतर्राष्‍ट्रीय फिल्‍म महोत्‍सव गोवा के पणजी में भव्‍य समारोह के साथ शुरू हो गया। देश-विदेश से फिल्‍म जगत की जानी-मानी हस्तियां इस समारोह की साक्षी बनीं।

महोत्‍सव का उद्घाटन सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने किया। उन्होंने कहा कि भारत ने फिल्‍मों के जरिए विश्‍व में अपनी पहचान बनाई है। उन्‍होंने कहा कि भारतीय फिल्‍मों को विश्‍वभर में पसंद किया जाता है। श्री जावड़ेकर ने कहा कि एक ही छत के नीचे देश में फिल्‍मों की शूटिंग की अनुमति देने की व्‍यवस्‍था की गई है।

शूटिंग के लिए देशी फिल्‍म हो, विदेशी फिल्‍म हो। अपने देश में इतनी सीनिक ब्‍यूटीफुल शूटिंग साइट्स हैं। उन शूटिंग लोकेशन पर फिल्‍म शूटिंग करने में 15-15, 20-20 परमिशन लेनी पड़ती है, लेकिन हम अब सिंगल विंडो की पूरी तैयारी किए हैं। सिंगल विंडो से सारी परमिशन्‍स मिलेगी और उस परमिशन से लोगों को सहूलियत होगी।

इस अवसर पर जाने-माने अभिनेता रंजनीकांत को आईकॉन ऑफ जुबली पुरस्‍कार से सम्‍मानित किया गया। रंजनीकांत ने ये पुरस्‍कार अपने प्रशंसकों को समर्पित किया।

मैं यह प्रतिष्ठित आईकॉन ऑफ जुबली पुरस्‍कार मिलने पर बेहद खुश हूं। इस सम्‍मान के लिए मैं तहे-दिल से भारत सरकार का शुक्रिया अदा करता हूं और मैं ये पुरस्‍कार अपने प्रशंसकों को समर्पित करता हूं।

समारोह में केन्‍द्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो, गोवा के मुख्‍यमंत्री प्रमोद सावंत, सूचना और प्रसारण सचिव अमित खरे तथा फिल्‍म अभिनेता अमिताभ बच्‍चन मौजूद थे।

अमिताभ बच्‍चन को भी सम्‍मानित किया गया। इस मौके पर उन्‍होंने अपने प्रशंसकों का आभार व्‍यक्‍त किया।

इतना बड़ा सम्‍मान दिया है इसके लिए मैं अपना आभार प्रकट करता हूं। ये माता-पिता का आर्शीवाद रहा है, उन सब डायरेक्‍टर्स, राइटर्स, म्‍युजिक डायरेक्‍टर्स, प्रोड्यूर्स का योगदान रहा है, जिसकी वजह से आज मैं आपके सामने खड़ा हूं। सबसे ज्‍यादा जिनको मैं अपना आभार देना चाहता हूं, वो हैं आप, मेरी जनता। मैं हमेशा कहता आया हूं कि एक बहुत बड़ा ऋण है मेरे ऊपर, कि जो आपने स्‍नेह और प्‍यार मुझे दिया है। इस ऋण को मैं कभी उतार नहीं पाऊंगा।

गोवा के पूर्व मुख्‍यमंत्री मनोहर पर्रिकर को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए मुख्‍यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा-

इफ्फी को गोवा में लाने का श्रेय हमारे पूर्व रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर को जाता है। उनके नेतृत्‍व में गोवा को भारतीय अंतर्राष्‍ट्रीय फिल्‍म महोत्‍सव का स्‍थायी आयोजन स्‍थल बनाया गया था। इस फिल्‍म महोत्‍सव में उनकी बनाई गई एक फिल्‍म का प्रदर्शन पहले ही किया जा चुका है।

इस अवसर पर सूचना प्रसारण मंत्रालय में सचिव अमित खरे ने कहा-

एक राष्‍ट्र के रूप में हम हर वर्ष अलग-अलग भाषाओं में 2,000 से भी ज्‍यादा फिल्‍मों का निर्माण करते हैं। इसके अलावा क्षेत्रीय भाषाओं में बनी हुई छोटी-छोटी फिल्‍में भी राष्‍ट्रीय स्‍तर तक अपनी पहुंच बनाती हैं। भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में ऐसी तमाम फिल्‍मों को शामिल किया गया है।

समारोह में फ्रांस की जानी-मानी अभिनेत्री ईज़ाबेल हुपर्ट को लाइफटाइम एचीवमेंट पुरस्‍कार से सम्‍मानित किया गया। ईफ्फी के 50वें संस्‍करण के उपलक्ष्‍य में एक स्‍मारक डाक टिकट भी जारी किया गया।

इफ्फी का स्वर्ण जयंती समारोह का प्रारम्भ, गोवा के श्यामा प्रसाद मुखर्जी स्टेडियम में शानदार कार्यक्रम के साथ आज हुआ। उद्धघाटन समारोह में फिल्म जगत की सबसे पसंदीदा कलाकार अमिताभ बच्चन, रजनीकांत और अन्य दिग्गजों की उपस्थिति थी। प्रसिद्ध गायक शंकर महादेवन और उनकी मंडली द्वारा शानदार संगीत प्रदर्शन ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। (AIR)

Download Our Free App