आपकी जीत में ही हमारी जीत है
Promote your Business

दिल्ली हिंसा की कमान NSA अजीत डोभाल ने संभाली , पीएम मोदी और गृह मंत्री ने नजर बनाए रखने को कहा

News

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को दंगा ग्रस्त उत्तर पूर्व दिल्ली की तनावपूर्ण स्थिति के मद्देनजर वहां की स्थिति पर नजर बनाए रखने और यथाशीघ्र उसे सामान्य बनाने को कहा है। अधिकारियों ने बुधवार (26 फरवरी) को यह जानकारी दी।

अधिकारियों के अनुसार यात्रा पर आए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के वापस रवाना होने के तत्काल बाद 75 वर्षीय डोभाल ने मंगलवार (25 फरवरी) रात को दिल्ली पुलिस के आयुक्त अमूल्य पटनायक, नवनियुक्त विशेष आयुक्त एस एन श्रीवास्तव और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ दंगाग्रस्त क्षेत्रों का दौरा किया।

कैबिनेट मंत्री का दर्जा प्राप्त डोभाल जाफराबाद और सीलमपुर समेत प्रभावित क्षेत्रों में गये जहां उन्होंने पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक की और उन्हें जरूरी निर्देश दिये। उन्होंने तनाव कम करने के लिए विभिन्न समुदायों के नेताओं के साथ बैठक भी की।

अधिकारियों के अनुसार बाद में डोभाल ने प्रधानमंत्री की अगुवाई वाली सुरक्षा संबंधी मंत्रिमंडलीय समिति (सीसीएस) के सामने स्थिति का मौके पर किया गया अपना विश्लेषण पेश किया और सांप्रदायिक दंगे की गिरफ्त में फंसे क्षेत्रों में हिंसा खत्म करने और स्थिति सामान्य करने के लिए उठाए गए कदमों के बारे में बताया।

सीसीएस में प्रधानमंत्री के अलावा रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और विदेश मंत्री एस जयशंकर हैं। डोभाल फिर वरिष्ठ अधिकारियों के साथ प्रभावित क्षेत्रों में पहुंच गए। वहां उन्होंने स्थानीय लोगों से भेंट की और उन्हें आश्वस्त किया कि स्थिति नियंत्रण में है।

अपने इस दौरे के दौरान डोभाल ने कहा कि वह मोदी और गृहमंत्री अमित शाह के निर्देश पर आए हैं। उन्होंने कहा, ”पुलिस जोर-शोर से काम कर रही है। सिर्फ कुछ अपराधी इसमें शामिल थे। लोगों को मुद्दों का समाधान करने का प्रयास करना चाहिए, न कि उसे बढ़ाने का। पहले घटनाएं हुईं, लेकिन आज शांति है।

स्थानीय लोग शांति चाहते हैं। हमें पूरा विश्वास है कि शांति होगी।” डोभाल बुधवार (26 फरवरी) को गृह मंत्री अमित शाह को उत्तर पूर्वी दिल्ली के मौजूदा हालात के बारे में जानकारी देने के लिए दोपहर को नॉर्थ ब्लॉक लौटे। इस बैठक में केद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला, खुफिया ब्यूरो के प्रमुख अरविंद कुमार और पटनायक भी शामिल हुए।

इस बैठक में शाह और डोभाल ने स्थिति पर चर्चा की और राष्ट्रीय राजधानी में शांति की शीघ्र बहाली की रणनीति तैयार की। उत्तर पूर्व दिल्ली में तीन पहले शुरू हुई सांप्रदायिक हिंसा में 27 लोग मारे जा चुके हैं। जाफराबाद, मौजपुर, बाबरपुर, यमुना विहार, भजनपुरा, चांदबाग और शिवविहार दंगे से प्रभावित हुए हैं।

पूर्व खुफिया ब्यूरो प्रमुख डोभाल अपनी सीधी पहल के लिए जाने जाते हैं। उन्हें प्रधानमंत्री का विश्वस्त माना जाता है। पिछले साल अगस्त में जब अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को निरस्त किया था तब भी डोभाल एक पखवाड़े तक जम्मू कश्मीर में डेरा डाले रहे थे।

The post दिल्ली हिंसा की कमान NSA अजीत डोभाल ने संभाली , पीएम मोदी और गृह मंत्री ने नजर बनाए रखने को कहा appeared first on Everyday News. (EVERYDAY NEWS)

32 Days ago

Download Our Free App