बजट समीक्षा

By CJ Rajeev Chander Sharma

अंबाला, 7 फरवरी। एस डी कालेज के अर्थशास्त्र विभाग केंद्रीय बजट 2020 पर परिचर्चा के अंतर्गत पूर्व कुलपति और कुरुक्षेत्र आधारित अर्थशास्त्री डा. मदन मोहन गोयल का मुख्य वक्ता स्वरूप विशेष व्याख्यान आयोजित किया। डा. गोयल ने कहा कि किसानों की आय दो गुणा करने के लिए ग्रामीण स्तर पर भंडारण क्षमता विकसित करने की आवश्यकता है। भारतीय खाद्य निगम इस उद्देश्य की प्राप्ति में सही से योगदान देने में असमर्थ रहा है। भारतीय जीवन बीमा निगम का सार्वजनिक निर्गम कर अंशों स्कंध विपणियों (स्टाक एक्सचेंजों) में सूचियन का निर्णय ठीक है। साथ ही, जीवन बीमा निगम को बहुराष्ट्रीय कंपनी के रूप में विकसित करने की भी जरूरत है। उन्होंने कहा कि सरकार के इरादों को सार्वजनिक रुप से प्रदर्शित करने के लिए और अधिक पारदर्शिता की आवश्यकता थी। उन्होंने रक्षा बजट में वृद्धि की आवश्यकता को रेखांकित किया। उन्होंने कृषि को व्यवसाय के रुप में विकसित करने का सुझाव दिया। कालेज में आगमन पर उप-प्राचार्य राजीव चन्द्र शर्मा ने उनका अभिवादन किया। अर्थशास्त्र की विभागाध्यक्ष डा हरविंदर कौर तथा अंग्रेजी विभागाध्यक्ष डा सुशील कंसल ने पुष्प-गुच्छ भेंट कर डा गोयल का स्वागत किया। इस अवसर पर अर्थशास्त्र के विद्यार्थियों के अतिरिक्त डा सुशील गोस्वामी, डा सोनिका सेठी, डा चिमन लाल, डा सरयू शर्मा, डा लीना गोयल, डा मदन राठी, प्रवीण वर्मा, हरविंद्र सिंह, नैंसी चोपड़ा और भूपिंदर कौर प्राध्यापक उपस्थित रहे।

Download Our Free App