आपकी जीत में ही हमारी जीत है
Promote your Business

बिहार के बाढ़ प्रभावित 14 जिलों में राहत और बचाव कार्य जोरों पर

News

बिहार के उत्‍तरी हिस्‍सों में बाढ़ की स्थिति और गंभीर हो गई है। गंडक, बूढ़ी गंडक, बागमती और अधवारा नदियां के उफनने से राज्‍य के 14 जिलों में 55 लाख से अधिक लोग बाढ़ की चपेट में हैं।

राज्‍य का दरभंगा जिला सबसे ज्‍यादा प्रभावित है। जहां करीब 17 लाख लोग बाढ़ का प्रकोप झेल रहे हैं। राज्‍य के मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, सीतामढ़ी और पूर्वी चम्‍पारण जिले भी बाढ़ से प्रभावित हैं।

दरभंगा और समस्तीपुर में निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को ऊंचाई वाले स्‍थानों पर चले जाने की सलाह दी गई है। पिछले 24 घंटों के दौरान बाढ़ जनित घटनाओं में 49 लोगों की मौत हो चुकी है। एक हजार 59 पंचायत क्षेत्रों के तहत आने वाले गांवों का जिला मुख्‍यालयों से सम्‍पर्क टूट गया है। पूर्वी-मध्‍य रेलवे के दरभंगा-समस्तीपुर रेलखण्‍ड पर रेल यातायात बंद पड़ा है। दरभंगा, समस्तीपुर, सारन और पूर्वी चम्‍पारण में कई जगहों पर सड़क यातायात बाधित है।

राज्‍य के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में राहत और बचाव अभियान जोर-शोर से चलाया जा रहा है। एन डी आर एफ और एस डी आर एफ की 31 टीमें इस काम में लगाई गईं हैं। अब तक चार लाख से ज्‍यादा लोगों को सुरक्षित स्‍थानों पर पहुंचाया गया है। 30 हजार लोग राहत शिविरों में शरण लिए हुए हैं। नौ लाख 30 हजार से ज्‍यादा लोगों को भोजन उपलब्‍ध कराने के लिए एक हजार तीन सौ 85 सामुदायिक रसोई चलाई जा रही हैं।

गंडक, बागमती, कमलाबालान, महानंदा और अधवारा समूह की नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। इस बीच, मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों के दौरान राज्‍य के उत्‍तरी हिस्‍सों में मध्‍यम से तेज बारिश होने की चेतावनी जारी की है। (AIR)

57 Days ago
Advertise Here