आपकी जीत में ही हमारी जीत है
Promote your Business

सीएम योगी का आदेश, समय से पहले पूरी हो एक्सप्रेस वे निर्माण परियोजनाएं

news

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का 45 प्रतिशत कार्य पूर्ण, बुंदेलखंड और गंगा एक्प्रेसवे परियोजना में भी तेजी आयी लखनऊ (राघवेन्द्र प्रताप सिंह) : योगी सरकार के द्वारा उत्तर प्रदेश में बनाये जारहे छः एक्सप्रेस वेज़ के तहत अब पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के काम ने रफ़्तार पकड़ी है। पूर्वांचल एक्सप्रेस का लगभग 45 प्रतिशत काम पूरा हो चूका है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का मानना है कि परियोजनाओं का कार्य अवरुद्ध होने से उनकी लागत बढ़ जाती है तथा जनता को समय से इनका लाभ नहीं मिल पाता। इसलिए निर्माण परियोजनाओं को प्राथमिकता के आधार पर तेजी के साथ पूरा किया जाए। उन्होंने कहा कि आवश्यक निर्माण परियोजनाओं के लिए धन की कमी नहीं होनी दी जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का 45 प्रतिशत से अधिक कार्य पूर्ण हो गया है। लॉकडाउन के बावजूद यह परियोजना निर्धारित समय से पहले पूर्ण कर ली जाएगी। इसी के साथ बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे का कार्य भी समयबद्ध ढंग से चल रहा है। मुख्यमंत्री योगी ने यूपीडा की परियोजनाओं की समीक्षा के दौरान गंगा एक्सप्रेस-वे के सम्बन्ध में शीघ्रता से निर्णय लेने को कहा है। गंगा एक्सप्रेस-वे के निर्माण का शुरुआती काम चल रहा है। इसके लिए हुडको द्वारा 2900 करोड़ रुपए का ऋण स्वीकृत कर दिया गया है। मुख्यमंत्री ने मेडिकल कॉलेजों के निर्माण की गति बढ़ाने के लिए कामगारों के अधिकाधिक नियोजन पर बल दिया।

उन्होंने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी चिकित्सा विश्वविद्यालय की स्थापना की कार्यवाही में गति लायी जाए। जिससे प्रत्येक मण्डल में अटल आवासीय विद्यालयों के निर्माण कार्यों को शीघ्रता से प्रारम्भ किया जाए। सीएम ने विभिन्न विभागों की 25 करोड़ से ऊपर की परियोजनाओं की समीक्षा की मुख्यमंत्री ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि विभिन्न निर्माण परियोजनाओं की विभागीय स्तर पर नियमित समीक्षा होती रहे। कार्यों की गुणवत्ता और समयबद्धता के साथ किसी भी दशा में समझौता नहीं होना चाहिए।

बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने लोक निर्माण विभाग, सिंचाई विभाग, यूपीडा, नगर विकास विभाग, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, चिकित्सा शिक्षा विभाग, श्रम विभाग आदि में निर्माणाधीन 25 करोड़ रुपए से अधिक की लागत की परियोजनाओं की समीक्षा की। उन्होंने सभी निर्माण कार्यों की गति बढ़ाने तथा उन्हें पूरी गुणवत्ता और समयसीमा में पूर्ण करने पर बल दिया। श्रमिकों को आवश्यकता अनुसार प्रशिक्षित कर कार्य लिया जाए मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि श्रमिकों और कामगारों को अधिक से अधिक रोजगार सुलभ कराने के लिए श्रम सुधार किए गए हैं।

श्रमिकों और कामगारों को विभिन्न प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध कराने की कार्यवाही भी की जा रही है। इन कामगारों का आवश्यकता के अनुसार प्रशिक्षण कराकर कार्य लिया जाए। जिससे समय से समुचित कदम उठाने से निर्माण परियोजनाएं निर्धारित अवधि में पूर्ण की जा सकती हैं।

इसके दृष्टिगत कार्य योजना बनाकर निर्माण परियोजनाओं को आगे बढ़ाया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि मनरेगा के तहत बरसात में भी जारी रखे जा सकने वाले कार्यों को चिन्हित कर लिया जाए, जिससे वर्षा ऋतु में भी श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराया जा सके। योगी का “हॉस्पिटल-इंस्पेक्शन” जारी, लोहिया के बाद पहुंचे सिविल अस्पताल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का अस्पतालों में पहुंचकर मरीजों से फीडबैक लेने का सिलसिला गुरुवार को भी जारी रहा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार सुबह लखनऊ स्थित डा. श्यामा प्रसाद मुखर्जी (सिविल) अस्पताल पहुंचे।

इमरजेंसी गेट की तरफ से प्रवेश करने के बाद योगी आदित्यनाथ ने इमरजेंसी के हालात और उसके बाद आईसोलेशन वार्ड का भी निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री अस्पताल में करीब 20 मिनट तक रुके। इस दौरान अस्पताल के निदेशक डा. डीएस नेगी ने मुख्यमंत्री को अस्पताल में दी जा रही सेवाओं के बारे में बताया। मुख्यमंत्री ने वहां भर्ती मरीजों व उनके परिजनों से फीडबैक लिया। उन्होंने निदेशक से कहा कि यह सुनिश्चित करें कि ओपीडी और इमरजेंसी में आने वाले मरीजों को सुचारु रूप से इलाज मिलता रहे। (DASTAK TIMES)

40 Days ago

Download Our Free App

Advertise Here