एक राष्ट्र एक चुनाव बैठक में मायावती नहीं लेगी हिस्सा : मायावती

news

लखनऊ | बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने एक राष्ट्र एक चुनाव मुद्दे पर दिल्ली में होने वाली चर्चा में हिस्सा लेने से इनकार कर दिया है। उन्होंने ट्वीट कर ये जानकारी दी। उन्होंने कहा कि अगर चुनाव ईवीएम की जगह बैलेट से कराने पर चर्चा होती तो वह जरूर जातीं। मायावती ने ट्वीट के माध्यम से लिखा कि "किसी भी लोकतांत्रिक देश में चुनाव कभी कोई समस्या नहीं हो सकती और न ही चुनाव को कभी धन के व्यय-अपव्यय से तौलना उचित है। देश में 'एक देश, एक चुनाव' की बात वास्तव में गरीबी, महंगाई, बेरोजबारी, बढ़ती हिंसा जैसी ज्वलन्त राष्ट्रीय समस्याओं से ध्यान बांटने का प्रयास व छलावा मात्र है।

उन्होंने आगे लिखा, "बैलेट पेपर के बजाए ईवीएम के माध्यम से चुनाव की सरकारी जिद से देश के लोकतंत्र व संविधान को असली खतरे का सामना है। ईवीएम के प्रति जनता का विश्वास चिन्ताजनक स्तर तक घट गया है। ऐसे में इस घातक समस्या पर विचार करने हेतु अगर आज की बैठक बुलाई गई होती तो मैं अवश्य ही उसमें शामिल होती।"

इसके अलावा एक अन्य ट्वीट में बसपा सुप्रीमो ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को उनके जन्मदिन पर बधाई दी है।

ज्ञात हो कि मायावती मंगलवार शाम को दिल्ली से लखनऊ पहुंची थीं। बुधवार को प्रधानमंत्री मोदी की बुलाई इस बैठक में उनके अलावा टीएमसी की ममता बनर्जी, टीडीपी के चंद्रबाबू नायडू, आप के अरविंद केजरीवाल और समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव भी शामिल नहीं हो रहे हैं। टीआरएस अध्यक्ष और तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव भी इस बैठक से दूर रहेंगे।

 

(RTI NEWS)

Download Our Free App