आपकी जीत में ही हमारी जीत है
Promote your Business

70 वर्षों तक पुराने 2000 डाक टिकटों से बनायी 2 दर्जन पेंटिंग्स इंडिया बुक ऑफ़ रिकॉर्ड्स में दर्ज हुआ नाम ।

By CJ rahul jain

news

*हेरिटेज सिटी जयपुर से इंस्पायर्ड, डाक टिकटों से बनी 24 पेंटिंग्स की ‘हेरिटेज आर्ट’ शृंखला का ‘इंडिया बुक ऑफ़ रिकॉर्ड’ में दर्ज हुआ नाम।*

*70 वर्षों तक पुराने 2000 डाक टिकटों से बनायी 2 दर्जन पेंटिंग्स, इंडिया बुक ऑफ़ रिकॉर्ड्स में दर्ज हुआ नाम ।*

गुलाबी नगरी जयपुर को वर्ल्ड हेरिटेज सिटी का दर्जा मिलने के बाद, अब शहर के डाक टिकट आर्टिस्ट राहुल जैन ने भी एक और सम्मान दिलाने का काम किया है।जयपुर के 29 वर्षीय आर्टिस्ट राहुल जैन ने दुनियाभर में अलग अलग विषयों पर जारी हुए डाकटिकटों से 24 हेरिटेज पेंटिंग्स की एक शृंखला बनाकर ‘इंडिया बुक ऑफ़ रिकॉर्ड’ में अपना नाम दर्ज करा लिया है। इन अलग अलग विषयों पर बनायी पेंटिंग्स में राहुल ने रंगों की जगह देश दुनिया के विभिन्न डाक टिकटों को इस्तेमाल लिया है । यह दुनिया की पहली ऐसी आर्ट है जो थीम बेस्ड पुराने डाक टिकटों को काम में लेकर बनायी गयी है।

*शुरूआत कुछ यूँ हुई !* राहुल ने इन हेरिटेज आर्ट पेंटिंग्स पर काम शुरू करने के लिए दो वर्ष पूर्व से ही तैयारी शुरू कर दी थी। उन्होंने पुराने डाक टिकट इकट्ठे करने के लिए देश विदेश के डाक टिकट संग्रह करने वाले लोगों से सोशल मीडिया के ज़रिए संपर्क करके कई पैन फ्रेंड बनाए व पुराने टिकटों का संग्रह करने लगे। इस तरह से लगभग 40 से अधिक देशों के कई हज़ार पुरानें टिकट इकट्ठे हो गए । विशेष यह है कि राहुल ने इस संग्रह को तिजोरी में बंद करने की जगह इनसे हेरिटेज पेंटिंग्स बनाने के नवीनतम प्रयोग की शुरुआत करी और इसी प्रयास से अब उनका नाम इंडिया बुक ऑफ़ रिकॉर्डस में दर्ज हो पाया है।

*दुनिया देखेगी जयपुर की कला* पुराने डाक टिकटों से बनी ये हस्तनिर्मित हेरिटेज पेंटिंग्स अगले वर्ष न्यूज़ीलैंड में 19 से 22 मार्च तक आयोजित होने वाले अंतरराष्ट्रीय टिकट प्रदर्शनी में शहर के आर्टिस्ट राहुल जैन द्वारा प्रदर्शित की जाएगी। इसकी तैयारी के लिए राहुल जयपुर के हेरिटेज से संबंधित एक विशेष शृंखला बना रहे हैं, जिनमें हाथी, सिलाई मशीन, हाथ का पंखा, विंटेज कार, राजस्थानी फ़ूड व नृत्य आदि से संबंधित हेरिटेज आर्ट पेंटिंगस प्रमुख हैं।

*गुलाबी नगरी में हुआ फोटोशूट* हाल ही में जयपुर के हेरिटेज से इंस्पायर्ड 24 पेंटिंग्स का आउटडोर फोटोशूट कराया गया। जिनमें शहर की मुख्य फोटोशूट साइट्स हवामहल, अलबर्ट हॉल, जवाहर सर्किल, विधानसभा, स्टेडियम, मोती डूंगरी गणेश जी व शहर की अन्य मुख्य बिल्डिंग्स जैसे लोटस टावर, वर्ल्ड ट्रेड पार्क, एयरपोर्ट, सरस पार्लर, मसाला चौक, राज मंदिर सिनेमा व गांधी सर्किल को पेंटिंग्स के साथ बैकग्राउंड में दिखाया किया गया। इसके पीछे राहुल का उद्देश्य देश दुनिया को गुलाबी नगरी जयपुर की ख़ूबसूरती से अवगत कराना है।

*पेंटिंग्स के पीछे उद्देश्य* भारत सहित सभी अन्य देशों के डाक विभाग हर वर्ष अलग अलग विषयों जैसे कला, प्रकृति, वाइल्ड लाइफ़, खेल, तकनीक, सिनेमा आदि पर एक सीमित संख्या में डाक टिकट जारी करते हैं जिन्हें संग्रह का शौक़ रखने वाले फिलेटलिस्ट ख़रीद कर अपने संग्रह में पीढ़ी दर पीढ़ी जमा करते रहते हैं।आज की भागदौड़ भरी दुनिया में लोगों की इन डाक टिकटों के प्रति जागरूकता ही नहीं रही है उनके पास इन्हें देखने व समझने का ना तो माध्यम है और ना ही समय। यंगस्टर्स में इन इतिहास समेटे डाक टिकटों के प्रति आकर्षण व जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से आर्टिस्ट राहुल ने इनसे पेंटिंग्स बनाने का यह नवीनतम प्रयोग किया।

Download Our Free App

Get domain .info
Get domain .shiksha
Advertise Here