JNU: संसद के घेराव से पहले ही धारा 144 लागू, छावनी में तब्दील हुआ कैपंस!

News

दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में फीस वृद्धि के मामले में उठे विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। बता दें कि छात्रों के विरोध प्रदर्शन के बाद प्रशासन की तरफ से थोड़ी नर्मी जरूर दिखाई, लेकिन छात्र अब भी अपनी मांगों को लेकर अडिग हैं।

खबरें ये भी आ रही है कि छात्रसंघ के सदस्य और अन्य विद्यार्थी फीस बढ़ाए जाने के फैसले को वापस लेने की मांग करते हुए सोमवार को संसद तक मार्च करने वाले हैं।

जिसको देखते हुए सुबह से ही जेएनयू परिसर के बाहर भारी संख्या में सुरक्षाबलों की तैनाती कर दी गई है। वहीं सुरक्षा व्यवस्था को देखते हुए संसद भवन के आसपास के इलाकों में सुरक्षा की दृष्टि से धारा 144 लागू कर दी गई है।

आपको बता दें कि एचआरडी मंत्रालय ने तीन सदस्यीय समिति का गठन किया है जो जेएनयू की सामान्य कार्यप्रणाली को बहाल करने के तरीकों की सिफारिश करेगी। जेएनयू के लिए बनाई गई एचआरडी समिति छात्रों और प्रशासन से बातचीत करेगी और सभी समस्याओं के समाधान को लेकर सिफारिश सौंपेगी।

बवाल हुआ तो रद्द होगा दाखिला
वहीं दूसरी ओर विश्वविद्यालय प्रबंधन ने विरोध और हड़ताल पर उतरे छात्रों को सख्त चेतावनी दी है। विवि का कहना है कि यदि विद्यार्थी हड़ताल से वापस नहीं लौटे तो उनका दाखिला रद्द कर दिया जाएगा। इसी को ध्यान में रखते हुए विवि प्रबंधन ने इस संबंध में एक सर्कुलर भी जारी किया। इसमें विरोध प्रदर्शन कर रहे छात्रों से वापस अपनी कक्षाओं में जाकर पढ़ाई करने की अपील की गई थी।

बता दें कि सर्कुलर में ये भी कहा गया है कि विवि शैक्षणिक कार्यक्रम के तहत आगामी 12 दिसंबर से परीक्षाएं शुरू होने वाली हैं। ऐसे में छात्रों के पास परीक्षाओं की तैयारियां करने के लिए कुछ ही समय बचा है। इसके अलावा एमफिल और पीएचडी के शोध आदि जमा करने और उसे मूल्यांकन शाखा को भेजने की अंतिम तिथि 31 दिसंबर निर्धारित है।

The post JNU: संसद के घेराव से पहले ही धारा 144 लागू, छावनी में तब्दील हुआ कैपंस! appeared first on Spasht Awaz.

(SPASHT AWAZ)

Download Our Free App